Latest News
News

राष्ट्रीय सीरो-सर्वे रिजल्ट: अनुमान है कि मई तक 64 लाख लोग हो चुके थे कोविड-19 से संक्रमित

September 11, 2020

मई के आरंभ में Covid-19 बीमारी की व्यापकता का पता लगाने के लिए इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) के पहले राष्ट्रीय सीरो-सर्वेक्षण नतीजे सामने आ गए हैं|रिपोर्ट के मुताबिक  यह अनुमान लगाया गया है कि 0.73% वयस्क यानी 64 लाख (64,68,388) लोग कोरोना वायरस के संपर्क में आ गए थे|

हालांकि यह सर्वे उस समय के संक्रमण की स्थिति बताता है जब देश में लॉकडाउन था| वहीं सीरो सर्वे बताता है कि जिन जिलों में एक भी कोरोना मामले सामने नहीं आए थे| उन जिलों में भी सीरो सर्वे में संक्रमण की बात सामने आयी है| रिपोर्ट से यह बात सामने निकलकर आती है कि जिन जिलों में कोई केस नहीं थे या कम केस थे वहां मामले इसलिए भी कम सामने आ रहे होंगे क्योंकि वहां टेस्टिंग कम थी|

सबसे ज्यादा प्रभावित 18 से 45 साल के बीच के लोग थे, क्योंकि 43.3 फीसदी लोगों ने SARS-CoV-2 के खिलाफ एंटीबॉडी विकसित की थी, जो Covid -19 का कारण बनता है।जबकि ऐज ग्रुप 46 से 60 वर्ष के बीच Covid-19 के खिलाफ एंटीबॉडी 39.5 फीसदी मामलों में पाया गया|

सर्वे में 10 समूहों से हर जिले से 400 वयस्क और प्रति घर एक वयस्क को शामिल किया गया था। Covid-19 Kavach ELISA डिटेक्शन किट का उपयोग करके इम्यूनोग्लोबुलिन जी (IgG), एक लंबे समय तक चलने वाले एंटीबॉडी का एक प्रकार के लिए सीरम के सैम्पल्स का टेस्ट किया गया था।

सीरो सर्वे 11 मई से 4 जून के बीच कराया गया था|इस सर्वे में 18 साल से ऊपर के वयस्क लोगों का सैंपल लिया गया था| कुल मिलाकर, 30,283 घरों का सर्वे किया गया और 28,000 लोगों ने स्टडी के लिए नामांकन किया था।देश के 21 राज्यों के 70 जिलों के 700 गांव/वार्ड में इस सर्वे को किया गया था|

सर्वे ज़्यादा ग्रामीण इलाकों में हुआ था|सर्वे के कुल सैंपल साइज का 69.4 फीसदी सैंपल ग्रामीण इलाकों से, शहरी स्लम से 15.9% और शहरी नॉन-स्लम से 14.6 प्रतिशत था|

यह सर्वे 4 स्तर पर किया गया था जिलों को कोरोना मामलों के आधार पर 4 श्रेणी में बांटा गया था|

  • जीरो केस
  • कम केस
  • मध्यम केस
  • बहुत केस

Copyright © All Rights Reserved.

Subscribe to newsletter