Latest News
News

UNHCR रिपोर्ट: 7 करोड़ से अधिक लोग दुनियाभर में हैं विस्थापित

June 22, 2019

UN हाई कमीशन फॉर रिफ्यूजी (UNHCR) द्वारा जारी एक रिपोर्ट के मुताबिक़ करीब 70.8 मिलियन महिला, पुरुष और बच्चों को 2018 के अंत तक जबरन विस्थापित किया गया था| यह UN रिफ्यूजी एजेंसी के 70 साल के इतिहास में विस्थापितों की सबसे अधिक संख्या है| गौरतलब है कि यह आंकड़ा 20 साल पहले दर्ज किए गए स्तर से दोगुना है।

रिपोर्ट तीन मुख्य समूहों की पहचान करती है। सबसे पहले, शरणार्थी या वे लोग जो संघर्ष, युद्ध या उत्पीड़न के कारण अपने देश को छोड़ने के लिए मजबूर हैं। 2018 में, दुनिया भर में इन शरणार्थियों की संख्या 25.9 मिलियन तक पहुंच गई|

दूसरा समूह शरण चाहने वालों का है जिनकी संख्या 3.5 मिलियन है। ये अपने जन्म से देश से बाहर के लोग हैं जो अंतर्राष्ट्रीय संरक्षण में हैं, लेकिन उन्हें शरणार्थी का दर्जा दिया जाना बाकी है।

तीसरा, आंतरिक रूप से विस्थापित व्यक्ति या IDP हैं। ये वे लोग जो अपने देश के भीतर विस्थापित हुए हैं और वैश्विक स्तर पर इनकी संख्या 41.3 मिलियन है।

दुनिया भर में दो तिहाई से अधिक शरणार्थी सीरिया, अफगानिस्तान, दक्षिण सूडान, म्यांमार और सोमालिया से आए। जहाँ सीरिया के शरणाथियों की संख्या 6.7 मिलियन के साथ किसी भी अन्य देश की तुलना में काफी अधिक थी, इसके बाद अफगानिस्तान में यह संख्या 2.7 मिलियन पहुंच गई थी।

अध्ययन बताता है कि संघर्ष / उत्पीड़न के परिणामस्वरूप औसतन हर 2 सेकंड में 1 व्यक्ति को जबरन विस्थापित किया जाता है और शरणार्थी दुनिया के सबसे कमजोर लोगों में से हैं।

भारत की सबसे पुरानी मॉडर्न यूनिवर्सिटी कलकत्ता यूनिवर्सिटी
भारत की सबसे पुरानी आधुनिक यूनिवर्सिटी कलकत्ता यूनिवर्सिटी

Copyright © All Rights Reserved.

Subscribe to newsletter