Latest News
News

इंटरनेट ब्राउज़िंग की दुनिया में ब्रेव(BRAVE) ब्राउज़र ने रखा कदम

June 30, 2019

इंटरनेट ब्राउज़िंग की दुनिया में ब्रेव(BRAVE) ब्राउज़र ने कदम रखा| यह ब्राउज़र 200 करोड़ यूजर वाले ब्राउजर गूगल क्रोम को टक्कर देने के लिए तैयार है|एक रीव्यूइंग पोर्टल के मुताबिक ब्रेव मोजिल्ला फायरफॉक्स के बाद सबसे बेस्ट ब्राउजर बन गया है। इस लिस्ट में ऐपल सफारी तीसरे नंबर और गूगल क्रोम चौथे स्थान पर है। ब्रेव ने स्पीड, सिक्यॉर ब्राउजिंग और क्विक नैविगेशन के मामले में गूगल क्रोम को पीछे छोड़ दिया। 

ब्रेव को सबसे पहले साल 2018 में आईओएस के लिए लॉन्च किया गया था। हालांकि अब यह ऐंड्रॉयड के साथ ही मैकओएस, विंडोज और Linux पर भी उपलब्ध है।


ब्रेव(BRAVE) ब्राउजर की खास बात

ब्रेव एक ओपन सोर्स क्रोमियम बेस्ड ब्राउजर है|

थर्ड पार्टी ऐड्स और कूकीज को ऑटोमैटिकली ब्लॉक कर देता है। 

यूजर को ऐड (विज्ञापन) देखने का भी ऑप्शन देता है। साथ ही यूजर अगर इस ब्राउजर पर मौजूद ऐड्स को क्लिक करते हैं तो उन्हें यह पैसे भी देगा।

ब्रेव ब्राउजर ऐडवर्टाइजिंग के नए मॉडल को तैयार किये हुए है जिसके मुताबिक ऐड देखने वाले यूजर्स को रेवेन्यू का 70 प्रतिशत हिस्सा जाएगा वहीं बचे हुए 30 प्रतिशत ब्राउजर के डिवेलपर्स के हिस्से में जाएगा।

ब्रेव की वेबसाइट की मुताबिक यह ब्राउजर क्रोम की तुलना में डेस्कटॉप पर दोगुना और मोबाइल पर आठ गुना तेज काम करता है।

भारत की सबसे पुरानी मॉडर्न यूनिवर्सिटी कलकत्ता यूनिवर्सिटी
भारत की सबसे पुरानी आधुनिक यूनिवर्सिटी कलकत्ता यूनिवर्सिटी

Copyright © All Rights Reserved.

Subscribe to newsletter