Latest News
Articles

एजुकेशन लोन के लिए इन बातों का रखें ध्यान

July 13, 2019

एजुकेशन लोन मुख्य रूप से किन स्टूडेंट्स को ऑफर किया जाता है?

एजुकेशन लोन उन भारतीय स्टूडेंट्स को ऑफर किया जाता है जिन्होंने किसी प्रोफेशनल या टेक्निकल कोर्स में दाखिला लिया हो या फिर मेरिट के आधार पर उनका देश या विदेश के किसी संस्थान में चयन हुआ हो|

एजुकेशन लोन के लिए सबसे अनिवार्य बात क्या है?

सह-आवेदक का होना | सह आवेदक में अभिभावक, जीवनसाथी या भाई-बहन भी मान्य हैं|

एजुकेशन लोन के लिए कौन-कौन से डाक्यूमेंट्स की आवश्यकता होती है?

कोर्स का फी स्ट्रक्चर, एडमिशन लेटर, स्टूडेंट् और पेरेंट्स का पैन कार्ड, स्टूडेंट और पैरेंट का आधार कार्ड, आइडेंटिटी प्रूफ(ड्राइविंग लाइसेंस, पासपोर्ट, आधार कार्ड और कोई भी फोटो आइडेंटिटी), रेजिडेंस प्रूफ (ड्राइविंग लाइसेंस, पासपोर्ट, इलेक्ट्रिसिटी बिल), स्टूडेंट /पैरेंट के पिछले छ: माह का बैंक स्टेटमेंट, पैरेंट/अभिभावक का सैलरी स्लिप जो कि सह-आवेदक के रूप में है

कितने राशि के लोन तक Guaranter की आवश्यकता नहीं होती है?

4 लाख रूपयें तक

कितने समय बाद से लोन की राशि चुकानी शुरू करनी होगी?

कोर्स खत्म होने के छह महीने से एक साल के भीतर रिपेमेंट पीरियड शुरू होता है|

7.50 लाख से अधिक लोन के लिए क्या प्रावधान है?

7.5 लाख रुपये से अधिक के लोन के लिए जमानती सुरक्षा देनी होती है, जिसमें घर, गहने या सिक्योरिटीज भी शामिल हैं.

भारत में अध्ययन के लिए कितना लोन बैंक मंजूर कर सकती है?

10 लाख

विदेश पढने जाने के लिए बैंको द्वारा कितने राशि तक लोन मिल सकता है?

20 लाख

एजुकेशन लोन में कोर्सेज की फीस के साथ और क्या शामिल कर सकतें हैं?

आप फीस के साथ-साथ अतिरिक्त खर्च जैसे हॉस्टल का किराया, परीक्षा, पुस्तकालय, प्रयोगशाला, किताब आदि खर्चों को भी शामिल कर सकते हैं।

विदेश में पढ़ाई करने के लिए क्या कुल खर्च बैंक वहन करती है?

स्टूडेंट्स को कम से कम 15 फीसदी रकम का इंतजाम स्वयं करना होता है।

क्या एजुकेशन लोन में सब्सिडी की कोई योजना है?

हाँ योजना तो है वो भी 4.5 लाख रुपये से कम सालाना आय वाले परिवार के लिए, जिसके अंतर्गत छात्रों को सरकार की तरफ से उच्च शिक्षा के लिए जो कर्ज मिलेगा उनपर पढ़ाई के दौरान और पढ़ाई पूरी होने के एक साल बाद तक कोई ब्याज नहीं लगेगा।

एजुकेशन लोन पर बैंक कितना ब्याज लगाती है?

हर बैंक का ब्याज दर अलग-अलग है| वो इस प्रकार है-

एसबीआई- 9.70-13.45 फीसदी

बैंक ऑफ महाराष्ट्र- 9.90-12.40 फीसदी

सेन्ट्रल बैंक- 11.45-11.95 फीसदी

पीएनबी 8.55-11.05 फीसदी

आईडीबीआई   10.75-13.25 फीसदी

एक्सिस बैंक 15-16.50 फीसदी

एचडीएफसी 12-13 फीसदी

एजुकेशन लोन की क़िस्त भरते वक्त क्या आयकर से कोई छूट मिलती है?

हाँ, स्वयं लोन की किश्त चुकाने पर आपको सरकार एजुकेशन लोन के लिए धारा 80 (E) के तहत आयकर में छूट देती है| इस स्थिति में लोन पर लगनेवाली ब्याज दर कम हो जाती है परंतु यह छूट सिर्फ आप अपनी आय से लोन की किश्त जमा करते है तभी लागू होगी| एजुकेशन लोन पर ब्याज दरों में आयकर से छूट कि अवधि आठ वर्ष तक कि होती है|

कोर्स के दौरान क्या एजुकेशन लोन पर ब्याज लगता है?

हाँ, कोर्स की अवधि के दौरान लोन पर ब्याज सामान्य होता है|

Copyright © All Rights Reserved.

Subscribe to newsletter