Latest News
News

प्रधानमंत्री किसान मान-धन योजना के लिए रजिस्ट्रेशन शुरू,जानें योजना से जुड़ी कुछ ख़ास बातें

August 12, 2019

केंद्रीय कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय ने किसानों को वृद्धावस्था पेंशन कवर प्रदान करने के लिए प्रधानमंत्री किसान मान-धन योजना के तहत पंजीकरण शुरू किया है।

पात्रता- यह 18 से 40 वर्ष के आयु वर्ग में उन छोटे और सीमांत किसान के लिए स्वैच्छिक और सहायक है जिनकी खेती योग्य भूमि 2 हेक्टेयर या उससे कम है|

भारतीय जीवन बीमा निगम (एलआईसी) पेंशन फंड मैनेजर होगा और साथ ही किसानों को पेंशन भुगतान के लिए भी जिम्मेदार होगा।

लाभ- 60 वर्ष की आयु के बाद लाभार्थियों को हर महीने 3000 रूपये पेंशन दिए जाएंगे|

लाभार्थी किसानों को पेंशन की निधि में, रु 55 रु से 200 रूपये तक मासिक योगदान करना होगा, और इस राशि को 60 वर्ष की आयु तक जमा करना होगा।पेंशन फंड में पात्र किसान द्वारा योगदान के रूप में केंद्र सरकार भी उतना ही योगदान करेगी| किसान का जीवनसाथी भी इस पेंशन निधि में अलग से योगदान करने पर 3000 रुपये का अलग पेंशन पाने के लिए पात्र है|

सेवानिवृत्ति की तारीख से पहले लाभार्थी किसान की मृत्यु के मामले में, जीवनसाथी शेष आयु तक शेष योगदान देकर योजना में बने रह सकते हैं|यदि पति या पत्नी जारी रखने की इच्छा नहीं रखते हैं, तो किसान द्वारा ब्याज के साथ किए गए कुल योगदान का भुगतान जीवनसाथी को किया जाएगा|यदि पति या पत्नी नहीं है, तो नोमनी को ब्याज के साथ कुल योगदान का भुगतान किया जाएगा|यदि किसान सेवानिवृत्ति की तारीख के बाद मर जाता है, तो पति या पत्नी को परिवार पेंशन के रूप में निर्धारित पेंशन का 50% प्राप्त होगा। किसान और पति या पत्नी दोनों की मृत्यु के बाद, संचित कोष को पेंशन फंड में वापस जमा कर दिया जाएगा|

लाभार्थी किसान स्वैच्छिक रूप से 5 वर्षों के नियमित योगदान के बाद इस योजना से बाहर निकलने का विकल्प चुन सकते हैं।

भारत की सबसे पुरानी मॉडर्न यूनिवर्सिटी कलकत्ता यूनिवर्सिटी
भारत की सबसे पुरानी आधुनिक यूनिवर्सिटी कलकत्ता यूनिवर्सिटी

Copyright © All Rights Reserved.

Subscribe to newsletter