Latest News
News

पोस्टग्रेजुएशन पूरा करने के बाद साइंस में 19.4% और मेडिकल साइंस में 15.5% स्टूडेंट्स जातें हैं पीएचडी के रास्ते

September 23, 2019

आल इंडिया सर्वे ऑन हायर एजुकेशन (AISHE) के रिपोर्ट के मुताबिक देश के 19.4 प्रतिशत साइंस स्टूडेंट्स मास्टर्स की डिग्री लेने के बाद पीएचडी करने के रास्ते जातें हैं|जो दर्शाता है कि देश में साइंस में पीएचडी करने की तरफ रुझान बहुत ही कम है|वहीं मेडिकल साइंस और सोशल साइंस की बात करें उनका आकड़ा और भी कम है, मेडिकल साइंस में 15.5% और सोशल साइंस में 6.1% स्टूडेंट्स मास्टर्स कम्पलीट करने के बाद आगे की पढाई के लिए पीएचडी को चुनते हैं|

रिपोर्ट में कहा गया है कि 2018-2019 में, कुल 44702 साइंस स्टूडेंट्स ने पीएचडी के लिए दाखिला लिया था, और सबसे अधिक नामांकन केमिस्ट्री सब्जेक्ट में था, उसके बाद फिजिक्स और फिर मैथमैटिक्स। 2018-2019 में देश में 1,69,170 स्टूडेंट्स ने पीएचडी कोर्स के लिए नामांकन किया है।

कृषि और संबद्ध पाठ्यक्रमों में 52.9% स्टूडेंट्स पीएचडी का विकल्प चुनते हैं। जबकि इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी कोर्स में पोस्ट ग्रेजुएशन के बाद 56.5% स्टूडेंट्स पीएचडी करतें हैं।

पीएचडी करने के लिए स्टूडेंट्स स्टेट पब्लिक यूनिवर्सिटी को डीम्ड यूनिवर्सिटी और अन्य स्टेट प्राइवेट यूनिवर्सिटीज की तुलना में अधिक प्रिफर करते हैं।

भारत की सबसे पुरानी मॉडर्न यूनिवर्सिटी कलकत्ता यूनिवर्सिटी
भारत की सबसे पुरानी आधुनिक यूनिवर्सिटी कलकत्ता यूनिवर्सिटी

Copyright © All Rights Reserved.

Subscribe to newsletter