Latest News
News

WHO रिपोर्ट:दुनिया भर में 2.2 अरब लोग आंख की समस्या और दृश्य हानि से पीड़ित

October 9, 2019

संयुक्त राष्ट्र की स्वास्थ्य एजेंसी ने मंगलवार को कहा कि दुनिया भर में 2.2 अरब लोग आंख की समस्या और दृश्य हानि से पीड़ित हैं। स्वास्थ्य एजेंसी ने नोट किया कि बढ़ती आबादी, बदलती जीवनशैली और आंखों की कम देखभाल , दृष्टि दोष के साथ रहने वाले लोगों की बढ़ती संख्या के मुख्य कारणों में से हैं।

दृष्टिहीनता या अंधेपन के साथ रहने वाले 2.2 अरब लोगों में से, एक अरब से अधिक मामलों को रोका जा सकता था या अभी तक उन्हें एड्रेस नहीं किया जा सका है।

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) द्वारा जारी की गई विज़न की पहली रिपोर्ट के अनुसार, सैकड़ों करोड़ों लोगों को छोटी और दूरदर्शिता, ग्लूकोमा और मोतियाबिंद जैसी स्थितियों के लिए आवश्यक देखभाल नहीं मिल रहा है।

रिपोर्ट के मुताबिक,बच्चों में, मायोपिया वाले बच्चों की बढ़ती संख्या को प्रभावित करने वाले कारकों में से एक यह है कि बच्चे बाहर पर्याप्त समय नहीं बिताते हैं। यह एक प्रवृत्ति है जो पहले से ही चीन जैसे कुछ देशों में देखी जाती है|

डब्ल्यूएचओ की रिपोर्ट में कहा गया है कि जनसंख्या में वृद्धि और उम्र बढ़ने के साथ-साथ जीवनशैली में बदलाव और शहरीकरण के साथ-साथ आंखों की स्थिति, दृष्टिहीनता और अंधेपन से पीड़ित लोगों की संख्या में भी वृद्धि होगी।

अध्ययन के मुख्य निष्कर्षों में से एक यह है कि रोकथाम महत्वपूर्ण है, क्योंकि कम से कम एक अरब लोग दृष्टि समस्याओं के साथ रह रहे हैं जिन्हें समय पर उपचार से बचा जा सकता था।

साथ ही यह भी बताया कि पश्चिमी और पूर्वी उप-सहारा अफ्रीका और दक्षिण एशिया सहित कम आय वाले क्षेत्रों में रोकथाम विशेष रूप से जरूरी है, जहां उच्च-आय वाले देशों की तुलना में अंधेपन की दर औसतन आठ गुना अधिक है।डब्लूएचओ की रिपोर्ट का एक और महत्वपूर्ण पहलू यह है कि उच्च-गुणवत्ता की आंखों की देखभाल हर किसी के लिए सुलभ होनी चाहिए, चाहे उनकी आय और स्थान कुछ भी हो।

Copyright © All Rights Reserved.

Subscribe to newsletter