Latest News
News

ऑस्टियोपोरोसिस दिवस पर जाने ऑस्टियोपोरोसिस से जुड़ी कुछ ख़ास बातें

October 21, 2019

अंतर्राष्ट्रीय ऑस्टियोपोरोसिस फाउंडेशन द्वारा प्रतिवर्ष 20 अक्टूबर को विश्व ऑस्टियोपोरोसिस दिवस मनाया जाता है। इसका उद्देश्य ऑस्टियोपोरोसिस की रोकथाम, उपचार और निदान के लिए जागरूकता पैदा करना है।

ऑस्टियोपोरोसिस (osteoporosis) हड्डी का एक रोग है जिससे फ़्रैक्चर का ख़तरा बढ़ जाता है। यह एक ऐसी बीमारी है जिसमे कैल्शियम और विटामिन डी की कमी के कारण बोन मास (घनत्व) कम हो जाता है और हड्डियां भुरभुरी हो जाती हैं।

वर्ल्ड हेल्थ आर्गेनाईजेशन (WHO) ने महिलाओं में ऑस्टियोपोरोसिस को DXA के मापन अनुसार बोन मास 2.5 मानक विचलन के रूप में परिभाषित किया है|ऑस्टियोपोरोसिस वाले व्यक्ति को 1 और 2.5 के बीच हड्डी का द्रव्यमान होने का दावा किया जाता है|

डब्ल्यूएचओ की रिपोर्ट के अनुसार हार्ट डिजीज के बाद ऑस्टियोपोरोसिस विश्व की दूसरी सबसे ज्यादा प्रभावित करने वाली बीमारी है। यह बीमारी पुरुषों की अपेक्षा महिलाओं में ज्यादा होती है। लगभग 230 मिलियन भारतीय 50 वर्ष से अधिक आयु के हैं। इनमें से 46 मिलियन महिलाएं ऑस्टियोपोरोसिस के चपेट में हैं।

भारत की सबसे पुरानी मॉडर्न यूनिवर्सिटी कलकत्ता यूनिवर्सिटी
भारत की सबसे पुरानी आधुनिक यूनिवर्सिटी कलकत्ता यूनिवर्सिटी

Copyright © All Rights Reserved.

Subscribe to newsletter