Latest News
Articles

GPAT एग्जाम से जुड़ी कुछ बातें

October 31, 2019

ग्रेजुएट फार्मेसी एप्टीटुड टेस्ट(GPAT) एक नेशनल लेवल एंट्रेंस एग्जाम है जिसके जरिये M.Pharm में एडमन लिया जाता है| साथ ही इस एग्जाम के जरिये फार्मेसी के क्षेत्र में कई अन्य स्कालरशिप और फाइनेंसियल सहायता का भी विकल्प खुलता है|

देश भर के लगभग 800 कॉलेजों के 40 हजार से अधिक सीट्स पर एडमिशन GPAT स्कोर के आधार पर होता है|

GPAT-2020 परीक्षा का आयोजन मिनिस्ट्री ऑफ़ ह्यूमन रिसोर्स डेवलपमेंट के दिशानिर्देशन में नेशनल टेस्ट एजेंसी (NTA) आयोजित करेगी|इससे पहले AICTE इस परीक्षा का आयोजन करती थी|

GPAT स्कोर को सभी एआईसीटीई-मान्यता प्राप्त संस्थानों / यूनिवर्सिटी डिपार्टमेंट्स / कोंस्टीटूएंट कॉलेजों / संबद्ध कॉलेजों द्वारा स्वीकार किया जाता है।

यह साल में एक बार आयोजित होने वाला तीन घंटे का कंप्यूटर बेस्ड टेस्ट है जिसमे 125 MCQ पूछे जातें हैं|प्रश्न का सही जवाब देने पर 4 मार्क्स दिए जातें हैं जबकि गलत जवाब पर 1 मार्क काट लिए जाते हैं|

GPAT एग्जाम क्लियर करने के तीन साल तक GPAT स्कोर वैलिड होता है|

GPAT स्कोर के माध्यम से AICTE से सम्बन्ध कॉलेजों में एडमिशन लेने के बाद AICTE स्टूडेंट को स्कालरशिप के रूप 12,400 रुपये हर महीने दो साल तक प्रदान करता है|

GPAT-2020 का रजिस्ट्रेशन प्रोसेस 1 नवंबर से शुरू होकर 30 नवंबर को समाप्त हो जाएगा|

Copyright © All Rights Reserved.

Subscribe to newsletter