Latest News
News

मद्रास HC:NEET कोचिंग में लाख रूपये खर्च करने में सक्षम स्टूडेंट्स को ही पहुंचाता है लाभ

November 5, 2019

मद्रास हाई कोर्ट ने NEET में सफल छात्रों के परिणाम पर अपनी प्रतिक्रिया जाहिर की है| मद्रास हाई कोर्ट ने कहा कि NEET में केवल वे छात्र सफल हुए हैं जो कोचिंग कक्षाओं पर लाखों रुपये खर्च करते हैं|और जिससे ग्रामीण क्षेत्र के छात्रों को नुकसान उठाना पड़ता है| जिसके मद्देनजर उच्च न्यायालय ने सोमवार को केंद्र को सलाह दी कि जो नियम बनाये गए हैं वह उनपर गौर करें।

इंडियन एक्सप्रेस के रिपोर्ट के मुताबिक़ 48 उन छात्रों को मेडिकल सीटें मिलीं जिन्होंने कोचिंग कक्षाओं में प्रवेश नहीं लिया था, जबकि 3,033 ने कोचिंग कक्षाओं में जाने के बाद सरकारी कॉलेजों में प्रवेश प्राप्त किया।

इसी तरह, केवल 52 छात्रों को कोचिंग कक्षाओं में भाग लेने के बिना सेल्फ-फाइनेंसिंग कॉलेजों में प्रवेश मिला, जबकि 1,598 को कोचिंग कक्षाओं में भाग लेने के बाद मेडिकल सीटें मिलीं।

कोर्ट की एक बेंच ने कहा कि यह चौंकाने वाला है कि केवल एक नगण्य संख्या में उम्मीदवारों को बिना कोचिंग के प्रवेश मिला। इसका मतलब है कि मेडिकल एजुकेशन गरीब लोगों के लिए उपलब्ध नहीं है और यह केवल उन लोगों के लिए उपलब्ध है जो लाखों रुपये खर्च करके कोचिंग क्लास से गुजरते हैं। इसके अलावा, यह ग्रामीण छात्रों को एक असुविधाजनक स्थिति में भी डाल देगा, क्योंकि उनके पास कोचिंग से गुजरने की सुविधाओं का अभाव है|

भारत की सबसे पुरानी मॉडर्न यूनिवर्सिटी कलकत्ता यूनिवर्सिटी
भारत की सबसे पुरानी आधुनिक यूनिवर्सिटी कलकत्ता यूनिवर्सिटी

Copyright © All Rights Reserved.

Subscribe to newsletter