Latest News
News

सरकार: सिविल सर्विस परीक्षा 2018 में चयनित उम्मीदवारों में 485 ने हिंदी को मातृभाषा रूप में चुना था

December 6, 2019

सरकार द्वारा जारी किये गए आकड़ों के मुताबिक 2018 में सिविल सेवा परीक्षा के माध्यम से हिंदी को मातृभाषा के रूप में चुनने वाले 485 उम्मीदवारों का चयन किया गया था|2018 की परीक्षा के आधार पर केंद्रीय सिविल सेवा के लिए कुल 812 उम्मीदवारों रेकमेंड किया गया था। इनमें से 485 ने हिंदी को अपनी मातृभाषा के रूप में चुना और बाकी लोगों ने अपनी मातृभाषा के रूप में अन्य क्षेत्रीय भाषाओं को चुना।

2017 की परीक्षा के दौरान, विभिन्न सेवाओं के लिए 1,056 उम्मीदवारों की सिफारिश की गई थी। राज्य सभा में एक लिखित उत्तर में राज्य मंत्री जितेंद्र सिंह द्वारा दिए गए आंकड़ों के अनुसार,
उनमे से 633 ने हिंदी को अपनी मातृभाषा के रूप में चुना था।

2016 में सिविल सेवा परीक्षा में चयनित 1,209 उम्मीदवारों में से, 664 ने हिंदी को अपनी मातृभाषा के रूप में चूना था। वहीं 2015 की परीक्षा में, 643 ऐसे उम्मीदवारों का चयन किया गया जिन्होंने हिंदी को अपनी मातृभाषा के रूप में चुना था|

NDTV

भारत की सबसे पुरानी मॉडर्न यूनिवर्सिटी कलकत्ता यूनिवर्सिटी
भारत की सबसे पुरानी आधुनिक यूनिवर्सिटी कलकत्ता यूनिवर्सिटी

Copyright © All Rights Reserved.

Subscribe to newsletter