Latest News
News

सइंटफिक आर्टिकल पब्लिश करने के मामले में भारत का विश्व में तीसरा स्थान

December 18, 2019

1.35 लाख सइंटफिक पेपर पब्लिश करने के साथ साइंस और इंजीनियरिंग आर्टिकल पब्लिश करने के मामले में भारत का विश्व में तीसरा स्थान है|चीन सइंटफिक आर्टिकल पब्लिश करने के मामले में टॉप पर है जो दुनियाभर से पब्लिश सभी पेपर्स का 20.67 प्रतिशत है वहीं अमेरिका 16.54 प्रतिशत पब्लिश पेपर्स के साथ तीसरे स्थान पर है।

यूएस नेशनल साइंस फाउंडेशन (NSF) द्वारा संकलित आंकड़ों के अनुसार, दुनिया भर में पब्लिश साइंस पेपर्स की संख्या 2008 में 1,755,850 से बढ़कर 2018 में 2,555,959 हो गई।

चीन में, 2008 में ग्लोबल सइंटफिक पब्लिकेशन की संख्या 2,49,049 से बढ़कर 2018 में 5,28,263 हो गई, जो 7.81 प्रतिशत प्रति वर्ष की विकास दर को दर्शाता है। अमेरिका,साइंस और इंजीनियरिंग आर्टिकल में कुल ग्लोबल पब्लिकेशन 0.71 प्रतिशत की विकास दर के साथ 2008 में 3,93,979 से बढ़कर 2018 में 4,22,808 हो गया।

वर्ल्ड रिसर्च आउटपुट , पीयर-रिव्यू साइंस और इंजीनियरिंग (एस एंड ई) जर्नल आर्टिकल और कॉन्फ्रेंस पेपर के द्वारा मापा जाता है, जो पिछले 10 वर्षों में सालाना लगभग चार प्रतिशत के साथ बढ़ा है।

जिन अन्य देशों ने शीर्ष 10 की सूची में स्थान बनाया है उनमें जर्मनी (1,04,396), जापान (98,793), यूके (97,681), रूस (81,579), इटली (71,240), दक्षिण कोरिया (66,376) और फ्रांस (66,352) शामिल है।

रिपोर्ट के अनुसार, चीन के रिसर्च आउटपुट की दर पिछले 10 वर्षों के लिए दुनिया के वार्षिक औसत से लगभग दोगुनी तेजी से बढ़ी है, जबकि अमेरिका और यूरोपीय संघ (ईयू) का आउटपुट दुनिया की वार्षिक वृद्धि के आधे से भी कम हो गया है।

Copyright © All Rights Reserved.

Subscribe to newsletter