Latest News
News

Study:ऑटिज्म से पीड़ित एक-चौथाई बच्चों का नहीं हो पाता उपचार

January 11, 2020

एक नए अध्ययन में पाया गया है कि आठ साल से कम उम्र के ऑटिज्म पीडि़त हर चौथे बच्चे का उपचार नहीं हो पाता। और इनमें ज्यादातर बच्चे अश्वेत थे|

2014 में शोधकर्ताओं ने 8 वर्ष की आयु के 266,000 बच्चों की शिक्षा और चिकित्सा रिकॉर्ड का विश्लेषण किया, यह निर्धारित करने के लिए कि कितने बच्चों को क्लिनिकली डायग्नोज़ नहीं किया गया था या उन्हें ऐसी सेवाएं दी गई थीं जो विकार के लक्षणों साबित करती हैं। इसमें पाया गया कि करीब 25 फीसद बच्चों में इस विकार की पहचान तक नहीं हुई थी।

ऑटिज्म एक प्रकार की मानसिक बीमारी है, जिसके लक्षण बचपन से ही बच्चे में नजर आने लगते हैं| इस बीमारी में बच्चे का मानसिक विकास ठीक तरह से नहीं हो पाता है|इस बीमारी से जूझ रहे बच्चे दूसरे लोगों के साथ घुलने-मिलने से कतराते हैं|ऐसे में बच्चे किसी भी विषय पर अपनी प्रतिक्रियाएं देने में भी काफी समय लेते हैं|

अमेरिका के रटगर्स न्यूजर्सी मेडिकल स्कूल के एसोसिएट प्रोफेसर वाल्टर जाहोरोडनी ने कहा कि ऑटिज्म के बारे में बढ़ती जागरूकता के बावजूद अश्वेत लोगों में कई मामलों का उपचार नहीं हो पाता। 

इंडिया टुडे

भारत की सबसे पुरानी मॉडर्न यूनिवर्सिटी कलकत्ता यूनिवर्सिटी
भारत की सबसे पुरानी आधुनिक यूनिवर्सिटी कलकत्ता यूनिवर्सिटी

Copyright © All Rights Reserved.

Subscribe to newsletter