Latest News
News

Report: किसानों से अधिक बेरोजगार और स्वरोजगार करने वाले व्यक्तियों ने की आत्महत्या

January 20, 2020

सरकार द्वारा जारी एक आकड़े के मुताबिक 2018 में हर दिन औसतन 35 बेरोजगार और 36 स्वरोजगार करने वालों ने अपना जीवन ख़त्म कर दिया,जबकि इन दोनों श्रेणियों में एक साल में कुल 26,085 आत्महत्याएं दर्ज की गईं।

राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो (NCRB) द्वारा संकलित आंकड़ों के अनुसार, 12,936 बेरोजगार व्यक्तियों ने अपनी जान ली जबकि यह आकड़ा 13,149 स्वरोजगार करने वाले लोगों के आत्महत्या से कम था| वहीं 2018 में खेती से जुड़े लोगों की आत्महत्या के आंकड़े 10,349 दर्ज किये गए।

NCRB के अनुसार साल 2018 के दौरान देश में कुल 1,34,516 आत्महत्याएं दर्ज की गईं, जो कि 2017 की तुलना में 3.6 प्रतिशत की वृद्धि दर को दर्शाता है। आत्महत्या की दर, जिसका अर्थ है कि प्रति एक लाख की आबादी पर मृत्यु, जो कि 2017 की तुलना में 2018 के दौरान 0.3 प्रतिशत बढ़ गई है।

देश में इस एक साल में हुए कुल आत्महत्याओं का 1.3 प्रतिशत (1,707) सरकारी नौकर से जुड़े थे जबकि निजी क्षेत्र में यह आकड़ा 6.1 प्रतिशत (8,246) रहा।
वहीं सार्वजनिक क्षेत्र के कर्मचारियों द्वारा उठाये गए इस तरह का कदम कुल आत्महत्या का 1.5 प्रतिशत (2,022) था, जबकि छात्रों और बेरोजगारों की तरफ से क्रमशः 10,159 और 12,936 आत्महत्याएं की गई जो कि कुल आत्महत्या का क्रमशः 7.6 प्रतिशत और 9.6 प्रतिशत था|

आत्महत्या करने वाली महिलाओं में गृहिणियों की दर 54.1 फीसद (42,391 में से 22,937) रही। ऐसा कदम उठाने वाले कुल लोगों की तुलना में यह आंकड़ा करीब 17.1 फीसद है।

NCRB के अनुसार, कृषि क्षेत्र में 10,349 व्यक्तियों (जिसमें 5,763 किसान या कृषक और 4,586 खेतिहर मजदूर शामिल हैं) ने 2018 के दौरान आत्महत्या की,जो कि कुल आत्महत्या पीड़ितों का 7.7 प्रतिशत था।

राज्यों की बात करें तो महाराष्ट्र में सबसे अधिक आत्महत्याएं 17,972 दर्ज किया गया, इसके बाद तमिलनाडु में 13,896 आत्महत्याएँ, पश्चिम बंगाल में 13,255, मध्य प्रदेश में 11,775 और कर्नाटक में 11,561 आत्महत्याएं हुई। वहीं इन पांच राज्यों में देश में कुल आत्महत्याओं का 50.9 प्रतिशत आत्महत्याएं हुई हैं|

भारत की सबसे पुरानी मॉडर्न यूनिवर्सिटी कलकत्ता यूनिवर्सिटी
भारत की सबसे पुरानी आधुनिक यूनिवर्सिटी कलकत्ता यूनिवर्सिटी

Copyright © All Rights Reserved.

Subscribe to newsletter