Latest News
Articles

मुंबई के बेस्ट इंस्टीटूट्स जो मुंबई को बनातें हैं बेहतर एजुकेशन का हब

January 27, 2020

भारत की आर्थिक राजधानी मुंबई जिसे देश में एक बड़े बिज़नेस हब और हिंदी सिनेमा के गढ़ (बॉलीवुड) के लिए जाना जाता है| भारत के अधिकांश बैंक एवं कई महत्वपूर्ण फाइनेंसियल इंस्टीटूशन्स जैसे भारतीय रिज़र्व बैंक, बम्बई स्टॉक एक्स्चेंज, नेशनल स्टॉक एक्स्चेंज एवं अनेक भारतीय कम्पनियों के तथा मल्टीनेशनल कंपनियों के कॉर्पोरेट ऑफिसेस मुम्बई में हैं|इन सब के बीच इस शहर की गोद में देश के कई प्रतिष्ठित एजुकेशनल इंस्टीटूशन्स फल-फूल रहें हैं|

मैनेजमेंट और इंजीनियरिंग के प्रोफेशनल इंस्टिट्यूट के साथ-साथ यहाँ फाइन आर्ट, जर्नलिज्म, लॉ, साइंस, कॉमर्स और हुमानिटीज़ आदि के बेहतरीन इंस्टीटूशन्स भी हैं जो कि राष्ट्रीय स्तर पर अपनी छाप छोड़ने में कामयाब रहें हैं| साथ ही इस शहर में टाटा के दो रिसर्च इंस्टिट्यूट पब्लिक फंडेड रिसर्च इंस्टिट्यूट टाटा इंस्टिट्यूट ऑफ़ सोशल साइंस (TISS) और टाटा इंस्टिट्यूट ऑफ़ फंडामेंटल रिसर्च(TIFR) हैं जिन्हे देश भर में सोशल साइंस और साइंस में रिसर्च के लिए जाना जाता है|

इंजीनियरिंग की बात करें तो इस शहर में चार बड़े इंस्टीटूट्स हैं जिनमें देश के प्रतिष्ठित IITs में से एक IIT मुंबई, इंस्टीट्यूट ऑफ केमिकल टेक्नोलॉजी (ICT) मुंबई,वीरमाता जीजाबाई टेक्नोलॉजिकल इंस्टिट्यूट और सरदार पटेल इंस्टिट्यूट टेक्नोलॉजी शामिल है| जबकि मैनेजमेंट में एस. पी. जैन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट एंड रिसर्च, जमनालाल बजाज इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट स्टडीज, SVKM’s NMIMS और शैलेश जे मेहता स्कूल ऑफ मैनेजमेंट जैसे इंस्टिट्यूट देश के बेहतरीन बिज़नेस स्कूल्स में अपना स्थान रखतें हैं|

मुंबई के बेहतरीन इंस्टीटूट्स जो राष्ट्रीय स्तर पर रखतें हैं अपनी पहचान

इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी बॉम्बे देश का इंजीनियरिंग और रिसर्च के क्षेत्र में प्रेस्टीजियस इंस्टिट्यूट है|वर्ष 1958 में स्थापित इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी बॉम्बे, इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी सीरीज का दूसरा इंस्टिट्यूट है और ऐसा पहला इंस्टिट्यूट है जो विदेशी सहायता से स्थापित किया गया है। वर्ष1961 में, संसद ने भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थानों को ‘’इंस्टिट्यूट ऑफ़ नेशनल इम्पोर्टेंस’’ के रूप में घोषित किया। यह देश के आर्थिक राजधानी मुंबई के पवई इलाके में स्थित है|मुंबई जैसे भीड़-भाड़ वाले शहर में होने के बावजूद इसका कैंपस नेचर की गोद में पल-बढ़ रहा है|ग्रेजुएशन, पोस्टग्रेडुएशन और डॉक्टोरल प्रोग्राम के लिए यह देश के बेस्ट स्टूडेंट्स को आकर्षित करती है|

टाटा इंस्टीट्यूट ऑफ फंडामेंटल रिसर्च (TIFR) मुंबई, भारत में स्थित एक पब्लिक रिसर्च इंस्टिट्यूट है जो गणित और विज्ञान में बेसिक रिसर्च के लिए समर्पित है। यह एक डीम्ड यूनिवर्सिटी है जिसकी स्थापना 1945 में हुई थी|यह भारत सरकार के परमाणु ऊर्जा विभाग के अम्ब्रेला तले काम करता है। यह नेवी नगर, कोलाबा, मुंबई में स्थित है|टीआईएफआर मुख्य रूप से नेचुरल साइंसेज, मैथमैटिक्स, बायोलॉजिकल साइंस और थ्योरेटिकल कंप्यूटर साइंस में रिसर्च प्रदान करता है और इसे भारत के उत्कृष्ट रिसर्च सेंटर में से एक माना जाता है।

टाटा इंस्टीट्यूट ऑफ सोशल साइंसेज (TISS) मुंबई, भारत में एक मल्टी कैंपस पब्लिक फंडेड रिसर्च यूनिवर्सिटी है। TISS प्रोफेशनल सोशल वर्क शिक्षा के लिए एशिया का सबसे पुराना इंस्टिट्यूट है और 1936 में सर दोराबजी टाटा ट्रस्ट द्वारा सर दोराबजी टाटा ग्रेजुएट स्कूल ऑफ सोशल वर्क के रूप में ब्रिटिश भारत के बॉम्बे प्रेसीडेंसी में स्थापित किया गया था|

सर जमशेदजी जीजीभॉय स्कूल ऑफ़ आर्ट (सर जे.जे. स्कूल ऑफ़ आर्ट) मुंबई का सबसे पुराना आर्ट इंस्टिट्यूट है, जिसकी स्थापना 1857 में हुई थी|यह मुंबई यूनिवर्सिटी से संबद्ध है। स्कूल फाइन आर्ट और स्कल्पचर में बैचलर्स की डिग्री, और फाइन आर्ट में मास्टर डिग्री ऑफर करता है।

नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग (NITIE), मुंबई, भारत में विहार झील के पास पवई में स्थित एक प्रतिष्ठित पोस्ट ग्रेजुएट इंस्टीट्यूट है, जो एक इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग इंस्टिट्यूट के रूप में 1963 में शुरू हुआ था, अब मैनेजमेंट और इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग के विभिन्न क्षेत्रों के साथ-साथ डॉक्टरेट स्तर के फेलोशिप प्रोग्राम्स में पोस्टग्रेजुएट डिप्लोमा प्रदान करता है।

इंस्टिट्यूट ऑफ़ केमिकल टेक्नोलॉजी (ICT), यूनिवर्सिटी डिपार्टमेंट ऑफ़ केमिकल टेक्नोलॉजी (UDCT), मुंबई, एक केमिकल टेक्नोलॉजी रिसर्च इंस्टिट्यूट है।जो कि केमिकल इंजीनियरिंग, केमिकल टेक्नोलॉजी और फार्मेसी की विभिन्न ब्रांचेस में ट्रेनिंग और रिसर्च पर केंद्रित है।इंस्टिट्यूट की स्थापना 1933 में हुई थी और 2008 में इसे डीम्ड यूनिवर्सिटी का दर्जा दिया गया, जिसके साथ ही यह भारत का एकमात्र स्टेट-फंडेड डीम्ड यूनिवर्सिटी बन गया।

गवर्नमेंट लॉ कॉलेज, मुंबई (जीएलसी मुंबई), 1855 में स्थापित, एशिया का सबसे पुराना लॉ स्कूल है। मुंबई यूनिवर्सिटी से संबद्ध कॉलेज, महाराष्ट्र सरकार द्वारा संचालित है|कॉलेज में प्रवेश महाराष्ट्र कॉमन एंट्रेंस टेस्ट – MH LAW CET के माध्यम से होता है|

एसएनडीटी विमेंस यूनिवर्सिटी भारत के साथ-साथ दक्षिण-पूर्व एशिया की पहली वीमेन यूनिवर्सिटी है। यूनिवर्सिटी की स्थापना महर्षि डॉ. धोंडो केशव कर्वे ने 1916 में महिला शिक्षा के एक महान कारण के लिए की थी|यूनिवर्सिटी टीचिंग, रिसर्च और एक्सटेंशन में सक्रिय रूप से शामिल है। SNDT भारत का राष्ट्रीय मूल्यांकन और प्रत्यायन परिषद (NAAC) से फाइव स्टार रेटिंग प्राप्त करने वाला महाराष्ट्र की पहली यूनिवर्सिटी है।एसएनडीटी के तीन कैंपस हैं: दो मुंबई में और एक पुणे में। यूनिवर्सिटी का मुख्यालय चर्चगेट कैंपस, मुंबई में है|

एसपी जैन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट एंड रिसर्च (SPJIMR) भारतीय विद्या भवन का एक घटक है और इसे भारत के प्रमुख बिजनेस स्कूलों में से एक माना जाता है। SPJIMR 1981 में ब्रिटिश प्रधान मंत्री, मार्गरेट थैचर द्वारा स्थापित किया गया था। संस्थान का नाम साहू जैन परिवार के साहू श्रेयांस प्रसाद जैन के नाम पर रखा गया था, जिन्होंने अपने शुरुआती वर्षों में संस्थान को फाइनेंस किया था।

सेंट जेवियर्स कॉलेज, मुंबई आर्ट, साइंस,कॉमर्स और मैनेजमेंट में ग्रेजुएट और पोस्ट ग्रेजुएट डिग्री प्रदान करने वाला मुंबई यूनिवर्सिटी से संबद्ध कॉलेज है।सेंट जेवियर्स कॉलेज की स्थापना 2 जनवरी 1869 को बॉम्बे में जर्मन जेसुइट्स द्वारा की गई थी| सेंट जेवियर्स को राष्ट्रीय मूल्यांकन और प्रत्यायन परिषद (NAAC) द्वारा ‘ए +’ ग्रेड से सम्मानित किया गया था।

सेंट्रल इंस्टीट्यूट ऑफ फिशरीज एजुकेशन (CIFE) मुंबई, भारत में फिशरीज साइंस के लिए हायर एजुकेशन की यूनिवर्सिटी है। CIFE अपने पूर्व छात्रों के साथ ह्यूमन रिसोर्स डेवलपमेंट में पिछले चार दशकों से अधिक का नेतृत्व कर रही है जिससे दुनिया भर में मत्स्य पालन और एक्वाकल्चर को विकसित किया जा सके|यह संस्थान भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद (ICAR) के तहत संचालित यूनिवर्सिटीज में से एक माना जाता है|CIFE फिशरीज साइंस की विशेष शाखाओं में मास्टर ऑफ फिशरीज साइंस (M.F.Sc) और पीएचडी डिग्री ऑफर करता है।

शैलेश जे. मेहता स्कूल ऑफ मैनेजमेंट एक पब्लिक बिजनेस स्कूल और इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी बॉम्बे का हिस्सा है। SJMSOM को 1995 में स्थापित किया गया था। 2000 में, डॉ. शैलेश जे. मेहता के सम्मान में स्कूल का नाम बदलकर शैलेश जे. मेहता स्कूल ऑफ़ मैनेजमेंट कर दिया गया|SJMSOM लीडरशिप, इकोनॉमिक्स, मार्केटिंग, एंटरप्रेन्योरशिप, ओर्गनइजेशनल बिहैवियर, टेक्नोलॉजी, मैनेजमेंट,स्ट्रेटेजी, ऑपरेशन और अन्य क्षेत्रों में एजुकेशन और रिसर्च का संचालन करता है। स्कूल कंपनी के रिप्रेजेन्टेटिव के लिए फुल टाइम डिग्री प्रोग्राम (मास्टर ऑफ मैनेजमेंट), डॉक्टरेट प्रोग्राम और मैनेजमेंट डेवलपमेंट प्रोग्राम (एमडीपी) ऑफर करता है।

भारत की सबसे पुरानी मॉडर्न यूनिवर्सिटी कलकत्ता यूनिवर्सिटी
भारत की सबसे पुरानी आधुनिक यूनिवर्सिटी कलकत्ता यूनिवर्सिटी

Copyright © All Rights Reserved.

Subscribe to newsletter