Latest News
News

CBSE कक्षा 10वीं के स्टैंडर्ड और बेसिक मैथमेटिक्स के पेपर की मार्किंग स्कीम, जानें यहाँ

February 11, 2020

सीबीएसई बोर्ड की परीक्षा की इसी हफ़्ते से शुरू होने वाली है|जहाँ परीक्षा स्किल आधारित विषयों से शुरू होगी और फिर मुख्य विषयों की परीक्षा होगी| इस बार कक्षा 10वीं के परीक्षा में गणित के 2 पेपर स्टैंडर्ड मैथमेटिक्स और बेसिक मैथमेटिक्स होंगे|मैथमैटिक्स को लेकर स्टूडेंट्स की परेशानी को ध्यान में रखते हुए 2019 में यह निर्णय लिया गया था कि जो स्टूडेंट 10वीं के बाद मैथ्स रखना चाहते हैं उनके लिए स्टैंडर्ड लेवल वाला पेपर होगा और जो स्टूडेंट मैथ्स नहीं रखना चाहते वे बेसिक लेवल वाला पेपर दे सकेंगे।

सीधे तौर पे सबसे पहले स्टैंडर्ड मैथमेटिक्स और बेसिक मैथमेटिक्स के बीच एक ही अंतर समझ में आता है वह है कि स्टैंडर्ड मैथमेटिक्स के मुकाबले बेसिक मैथमेटिक्स आसान होगी। लेकिन दोनों पेपर में पूछे जाने वाले सवालों के वेटेज को लेकर भी फर्क है।वह इस प्रकार है:-

बेसिक मैथमेटिक्स में 32 नंबर उन सवालों के लिए अलॉट किए हैं जिनके लिए फैक्ट्स, टर्म्स, कॉन्सेप्ट और आंसर याद रखना पड़ता है। स्टैंडर्ड मैथमेटिक्स में ऐसे ही सवालों के लिए 20 मार्क्स अलॉट किए गए हैं। 

बेसिक गणित के पेपर में, 28 अंक उन सवालों के लिए अलॉट किए गयें हैं जो कांसेप्ट को लेकर स्टूडेंट की समझ को प्रदर्शित करते हैं। जबकि स्टैंडर्ड मैथमेटिक्स के पेपर में, यह 23 अंकों के होंगे|

एप्लीकेशन के आधार पर पूछे जाने वाले सवालों के लिए बेसिक मैथमेटिक्स के पेपर में 12 मार्क्स जबकि स्टैंडर्ड मैथमेटिक्स के पेपर में 19 मार्क्स होंगे।

ऐसे सवाल जिनके सूचना का विश्लेषण और मूल्यांकन करके जवाब देना होगा बेसिक मैथ्स के पेपर में उनके लिए 8 मार्क्स जबकि स्टैंडर्ड मैथ्स के पेपर में वह 18 मार्क्स होंगे।

भारत की सबसे पुरानी मॉडर्न यूनिवर्सिटी कलकत्ता यूनिवर्सिटी
भारत की सबसे पुरानी आधुनिक यूनिवर्सिटी कलकत्ता यूनिवर्सिटी

Copyright © All Rights Reserved.

Subscribe to newsletter