Latest News
News

AICTE: साल 2022 तक नहीं खुलेंगे नए इंजीनियरिंग कॉलेज

February 15, 2020

आल इंडिया कॉउन्सिल ऑफ़ टेक्निकल एजुकेशन साल 2022 तक नए बीटेक संस्थानों के लिए कोई आवेदन स्वीकार नहीं करेगा। इसका प्रमुख कारण देश में इंजीनियरिंग की सीटें खाली रह जाना है|एक आकड़े के मुताबिक 50 फीसदी इंजिनियरिंग की सीटें खाली रह गई हैं। 

आपको बता दें इंजीनियरिंग के प्रति स्टूडेंट्स का रुझान कम होने के चलते कई इंजीनियरिंग कॉलेजों के आधे से ज्यादा सीटें खाली रह जाती हैं|जिसे ध्यान में रखते हुए 2015 से 2019 के बीच ऐसे कुल 518 इंजीनियरिंग कॉलेज बंद किये जा चुकें हैं।


साल 2019-20 में इंजीनियरिंग में ग्रेजुएशन की 14 लाख, डिप्लोमा की 11 लाख और पोस्ट ग्रेजुएट की 1.8 लाख सीटें हैं, यानी कुल 27 लाख सीटें तय हैं। जहाँ सात लाख ग्रेजुएशन के स्टूडेंट को मिलाकर कुल 13 लाख स्टूडेंट्स ने प्रवेश लिया है।यानी 15 लाख सीटें खाली रह गई हैं।

अगर कोई कॉलेज नए कोर्स की शुरुआत करना चाहता है तो उसके लिए मंजूरी दी जाएगी। 

Copyright © All Rights Reserved.

Subscribe to newsletter