Latest News
News

कोरोना के इलाज के लिए ग्लेनमार्क की दवा फेबिफ्लू को DCGI की मंजूरी

June 22, 2020

दुनियाभर में कोरोना वायरस के वैक्सीन और दवा पर काम चल रहा है और कुछ दवाओं पर ट्रायल भी चल रहा है| इसी बीच भारत से भी कोरोना की दवा को लेकर एक अच्छी खबर सामने आई है| फ़ार्मास्युटिकल कंपनी ग्लेनमार्क का दावा है कि कोविड-19 के माइल्ड और मॉडरेट मरीज़ों पर इसका इस्तेमाल किया जा सकता है और परिणाम सकारात्मक आए हैं|

इस दवा को कंपनी ने फैबिफ्लू ब्रांड के नाम से पेश किया है| यह एक रीपर्पस्ड (Repurposed Drug) दवा है जिसका मतलब है इस दवा का इस्तेमाल पहले से फ़्लू की बीमारी के इलाज में किया जाता रहा है|

ग्लेनमार्क कंपनी का दावा है कि ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ़ इंडिया (डीसीजीआई) ने इस दवा के ट्रायल के लिए सशर्त मंज़ूरी दी है|इस शर्त में दवा का इस्तमाल केवल इमरजेंसी में और रेस्ट्रिक्टेड रूप में किया जाएगा|

बीबीसी के मुताबिक जिस किसी कोविड-19 के मरीज़ को इलाज के दौरान ये दवा दी जाएगी, उसके लिए पहले मरीज़ की सहमति अनिवार्य होगी|

यह दवा लगभग 103 रुपये प्रति टैबलेट की दर से बाजार में उपलब्ध होगी। ग्लेनमार्क फार्मास्युटिकल्स ने कहा कि यह दवा 34 टैबलेट की स्ट्रिप के लिए 3,500 रुपये के अधिकतम खुदरा मूल्य (एमआरपी) पर 200 मिलीग्राम टैबलेट के रूप में उपलब्ध होगी।

बीबीसी के खबर के मुताबिक इस दवा का दुनिया के कई देशों में कोविड-19 के इलाज के लिए ट्रायल चल रहा है| इसमें जापान, रूस, चीन जैसे बड़े देश शामिल हैं|

Copyright © All Rights Reserved.

Subscribe to newsletter