Latest News
News

यूपी बोर्ड हाई स्कूल की परीक्षा के हिंदी के पेपर में 5.27 लाख से अधिक छात्र हुए फेल

June 29, 2020

गौर करने की बात है कि हिंदी भाषी बेल्ट में उत्तरप्रदेश जैसे राज्य जहां की मूल भाषा हिंदी है वहां इस साल 5.27 लाख से अधिक हाई स्कूल के छात्र हिंदी की परीक्षा में फेल हो गए, जबकि अंग्रेजी में 5.19 लाख छात्र उत्तीर्ण नहीं हो सके।

इस साल, कुल 28.73 लाख छात्र हिंदी के पेपर में उपस्थित हुए और इनमें से केवल 23.45 लाख छात्र ही इस विषय को पास कर पाए। हिंदी के पेपर के लिए पास प्रतिशत केवल 81.64% रहा।

हिन्दुस्तान टाइम्स के रिपोर्ट के मुताबिक पिछले साल भी अंग्रेजी में फेल हुए 5.02 लाख छात्रों की तुलना में यूपी बोर्ड हाईस्कूल परीक्षा के हिंदी के पेपर में 5.74 लाख से अधिक छात्र फेल हो गए थे।

वहीं इस साल 26.67 लाख छात्र अंग्रेजी के पेपर में उपस्थित हुए और 21.47 लाख परीक्षार्थियों ने परीक्षा पास की।

शिक्षक संघ के एक वरिष्ठ पदाधिकारी आरपी मिश्रा ने कहा, “छात्र हिंदी को हल्के में लेते हैं, यह मानते हुए कि यह उनकी मातृभाषा है और वे विषय के अच्छे जानकार हैं। लेकिन यह वैसा नहीं है। छात्रों से हिंदी भी समय मांगती है। ”

Copyright © All Rights Reserved.

Subscribe to newsletter