Latest News
News

ताइवान समलैंगिक विवाह को मंजूरी देने वाला पहला एशियाई देश

May 18, 2019

ताइवान सेम-सेक्स मैरिज (समलैंगिक विवाह) को वैध करार करने वाला पहला एशियाई देश बन गया है| 17 मई को ताइवान की संसद में वोट के जरिये यह ऐतिहासिक निर्णय लिया गया| इंटरनेशनल डे एगेंस्ट होमोफोबिया, ट्रांसफोबिया और बाइफोबिया के दिन हुआ यह वोट ताइवान के एलजीबीटी समुदाय के लिए बड़ी जीत है |

संसद में सांसदों के विरोध के बावजूद सेम-सेक्स मैरिज विधेयक पास हुआ |

यह विधेयक समलैंगिक जोडों को ”विशिष्ट स्थायी संघ” बनाने और सरकारी एजेंसियों में ”विवाह के लिए पंजीकरण” कराने की अनुमति देता है।

ताइवान की शीर्ष अदालत ने सेम-सेक्स मैरिज को कानूनी मान्यता न देने पर इसे सविंधान का उल्लंघन बताया था | इस बारे में संसद को दो साल की समय सीमा दी गई थी और 24 मई तक आवश्यक बदलाव पारित करने की आवश्यकता थी|

हालांकि इससे पहले समलैंगिक विवाह पर ताइवान में जनमत संग्रह कराया गया था जिसमे कि बहुसंख्यक मतदाताओं ने समलैंगिक विवाह को वैध बनाने का विरोध किया| उनका कहना था कि विवाह की असली परिभाषा एक आदमी और औरत का साथ में होना है|

ताइवान लंबे समय से एलजीबीटी सक्रियता का केंद्र रहा है।और यहाँ का एलजीबीटी समुदाय कई वर्षों से समानता और समान विवाह अधिकारों को विषमलैंगिक जोड़ों की तरह लागू करने के लिए प्रचारित कर रहा है।

भारत की सबसे पुरानी मॉडर्न यूनिवर्सिटी कलकत्ता यूनिवर्सिटी
भारत की सबसे पुरानी आधुनिक यूनिवर्सिटी कलकत्ता यूनिवर्सिटी

Copyright © All Rights Reserved.

Subscribe to newsletter