Latest News
News

नासा ने खोजा ब्रह्मांडीय पिंड अल्टिमा थुले पर पानी का श्रोत

May 20, 2019

नासा को अल्टिमा थूले की सतह पर मेथनॉल, पानी की जमी बर्फ और कार्बनिक अणुओं के एक अनोखे मिश्रण के प्रमाण मिले हैं| अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी ने अल्टिमा थुले की पहली प्रोफ़ाइल प्रकाशित की है| मानव जाति द्वारा खोजी गई अब तक की यह सबसे दूरस्थ दुनिया है।

न्यू होराइजन्स अंतरिक्ष यान के नए साल 2019 पर उड़ान के दौरान कुइपर बेल्ट ऑब्जेक्ट 2014 एमयू 69 (उपनाम अल्टिमा थुले) से एकत्र किए गए आंकड़ों के सिर्फ पहले सेट का विश्लेषण किया गया है, जिसमें उस क्षेत्र के खगोलीय पिंड के विकास, भूविज्ञान और रचना के बारे में बहुत कुछ खुलासा किया गया है।        

अल्टिमा थुले

अब तक का यह सबसे दूरस्थ स्थित प्राचीन ब्रह्मांडीय पिंड है। यह एक ट्रांस-नेप्च्यूनियन ऑब्जेक्ट है जो कुइपर बेल्ट (बाहरी सौर मंडल में एक परिस्थितिजन्य डिस्क) में स्थित है| इसका वैज्ञानिक नाम (486958) 2014 MU69 है|  शब्द ‘अल्टिमा’ और ‘थुले’ इसका उपनाम है। अल्टिमा थुले, एक ग्रीको-लैटिन शब्द है जिसका अर्थ है एक “दूर की अज्ञात दुनिया” |   

भारत की सबसे पुरानी मॉडर्न यूनिवर्सिटी कलकत्ता यूनिवर्सिटी
भारत की सबसे पुरानी आधुनिक यूनिवर्सिटी कलकत्ता यूनिवर्सिटी

Copyright © All Rights Reserved.

Subscribe to newsletter